बिहार राज्य खेल प्राधिकरण

कार्यक्रम

29
Aug.

समाचार

कला, संस्कृति एवं युवा विभाग तथा बिहार राज्य खेल प्राधिकरण द्वारा आयोजित दिनांक 29 अगस्त 2015 को खेल समारोह का आयोजन...
और जानने के लिए »

मीडिया समाचार

समाचार

बिहार सरकार कला, संस्कृति एवं युवा विभाग

राजकीय संकल्प संख्या 3 दिनांक 04.01.90 को विलोपित करते हुए राज्य सरकार ने बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के पुर्नगठन का निर्णय लिया है ...

और जानने के लिए »

परिचय

राजकीय संकल्प संख्या 3 दिनांक 04.01.1990 को विलोपित करते हुए राज्य सरकार ने बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के पुर्नगठन का निर्णय लिया है।

बिहार राज्य के अन्तर्गत खेल के सर्वांगीण विकास प्रचार तथा प्रसार के लिए बिहार राज्य खेल प्राधिकरण की स्थापना की गई है। इसका मुख्यालय पटना में होगा और इसका स्वतंत्र कार्यालय होगा। इसके निम्नलिखित लक्ष्य होगें -


1. केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के नीति के आलोक में राज्य में खेलों के विकास प्रचार एवं प्रसार के लिए योजनाएं तैयार करना और उनका कार्यान्वयन करना।
2. समय समय पर भारत सरकार राज्य सरकार भारतीय खेल प्राधिकरण तथा अन्य निकायों द्वारा खेल कूद के स्तरोन्नयन एवं खेल के प्रचार प्रसार तथा विकास के निमित सौपी गई योजनाओं को जारी रखना और उनका कार्यान्वयन करना।
3. नये संस्थानों की स्थापना करना तथा नये एवं पूर्व के चल रहे संरचनाओं को चलाना प्रबंध करना और संचालन करना।
4. राज्य में खेल कूद के विकास संबंधी मामलों में राज्य सरकार को परामर्ष देना
5. राज्य सरकार तथा राज्य स्तरीय विभिन्न खेल संस्थाओं के बीच माध्यम के रूप में कार्य करना।
6. खेल प्रातियोगिता प्रषिक्षण शिविरों प्रदर्षनी मैचों तथा अन्य खेल गतिविधियों का आयोजन प्रायोजन तथा व्यवस्था स्वयं करना तथा ऐसे कायोर्ं के लिए अन्य संस्थाओं की सुविधाएँ एवं आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना।
7. राज्य के ग्रामीण क्षेत्रां में खेल गतिविधियों के प्रचार प्रसार के लिए व्यवस्था करना आर्थिक सहायता देना तथा प्रतियोगिताओं का आयोजन करना।
8. विभिन्न खेलों में उच्च स्तर की प्राप्ति के लिए षिक्षण प्रषिक्षण एवं सुविधाओं की व्यवस्था करना।
9. राज्य में खेल अवसंरचना खेल सुविधाओं सहायक भवनों खेल मैदानों स्टेडियम स्वीमिंग पुल आदि के लिए योजना बनाना उनका विकास करना निर्माण करना अधिग्रहण करना प्रबंधन करना रख रखाव करना तथा उनका प्रयोग करना एवं अन्य सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थाओं द्वारा अनुरूप उद्देष्यों की प्राप्ति के लिए सुविधाएँ एवं आर्थिक सहायता उपलब्ध करना
10. मोईनुल हक स्टेडियम राजेन्द्र नगर पटना का नियंत्रण विकास एवं देख रेख करना
11. राज्य सरकार द्वारा खेल कूद के प्रसार एवं खेल कूद के उन्न्यन के लिए चलायी जा रही या प्रस्तावित योजनाओं के प्रषासन का भार सौंपे जाने पर उनका कार्यान्वयन करना
12. खेलों के विकास के लिए राज्य में सुविधाजनक स्थानों में खेल केन्द्रों का गठन करना।
14. अर्न्तराष्ट्रीय/राष्ट्रीय तथा राज्य स्तरीय टुर्नामेंट का आयोजन तथा संचालन के लिए आयोजकों को तकनीकी तथा अन्य सहायता देना एवं खेल उपष्कर खेल सुविधाओं तथा विषेषज्ञों द्वारा मार्ग दर्षन उपलब्ध कराना।
15. खिलाडि़यों खेल पदाधिकारियों और ऐसे ही अन्य व्यक्तियों के कल्याण के लिए कदम उठाना और सक्रिय अथवा सेवा निवृत खिलाडि़यों तथा अधिकारियों (जिसमें प्रषिक्षण भी शामिल है) के लिए हितकारी योजना बनाना और उनका कार्यान्वयन कराना।
16. खेल कूद में विषिष्ट प्रतिभा का प्रदर्षन करनेवाले खिलाडि़यों को सम्मानित करना आर्थिक सहायता तथा अन्य सुविधाएँ उपलब्ध कराना।
17. खेल और इससे संबंधित विषयों पर संगोष्ठी/सम्मेलन इत्यादि आयोजित करना।
18. चल और अचल परि सम्पतियों की खरीद अथवा स्वामित्व प्राप्त करना अथवा पट्टे पर या किराये पर लेना और ऐसे किसी भी चल अचल परि सम्मपति को बेचना गिरवी रखना हस्तान्तरण करना अथवा अन्य निपटारा करना परन्तु ऐसे अचल परि सम्पतियों के बारे में प्रत्येक कार्रवाई करने के पूर्व राज्य सरकार की अनुमति प्राप्त करना आवष्यक होगा।
19. ऐसे सभी कार्रवाई और कार्य करना जिसे प्राधिकरण उपर्युक्त लक्ष्यों अथवा इनमें से किसी एक की प्राप्ति तथा विस्तार के लिए आवष्यक समझे।

बिहार राज्य खेल प्राधिकरण सोसाईटीज पंजीयन अधिनियम 1860 अन्तर्गत सोसाईटीज के रूप में पंजीकृत होगा और इसमें निम्नलिखित शामिल होगें।

1. महामहिम राज्यपाल के परामर्शी - पदेन अध्यक्ष
2. सचिव कला संस्कृति एवं युवा विभाग - उपाध्यक्ष
3. महानिदेषक बिहार राज्य खेल प्राधिकरण - मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी
4. राज्य सरकार द्वारा मनोनित ५ संसद सदस्य/विधान मंडल सदस्य - सदस्य
5. बिहार ओलम्पिक एसोसिएषन के प्रतिनिधि - सदस्य
6. राज्य सरकार द्वारा मनोनित ७ खेल प्रवर्तक/खेल विकास अथवा आयोजन से संबंधित जानकारी रखने वाले व्यक्ति जिनमें से कम से कम दो महिला होगी - सदस्यगण
7. राज्य सरकार द्वारा मनोनित तीन उत्कृष्ट खिलाड़ी जिनमें से कम से कम एक महिला होगी - सदस्यगण
8. राज्य सरकार द्वारा चक्रानुक्रम से एक वर्ष के लिए मनोनित राज्य के दो विष्वविद्यालयों के छात्र कल्याण संकाध्यक्ष - सदस्यगण
9. राज्य सरकार द्वारा मनोनित दो खेल प्रषिक्षण केन्द्र के प्राचार्य - सदस्यगण
10. राज्य सरकार द्वारा मनोनित दो पत्रकार - सदस्यगण
11. राज्य सरकार द्वारा चक्रानुक्रम से एक वर्ष के लिए मनोनित ७ मान्यता प्राप्त राज्य स्तरीय खेल संघ के प्रतिनिधि - सदस्यगण
12. खेल उद्योमों के तीन प्रतिनिधि - सदस्यगण
13. निदेशक छात्र एवं युवा कल्याण बिहार - पदेन सदस्य
14. सचिव बिहार राज्य खेल प्राधिकरण - पदेन सदस्य सचिव

अध्यक्ष प्राधिकरण ही किसी बैठक में कार्य सूची को देखते हुए अधिक से अधिक 5 अतिरिक्त व्यक्तियों को बैठक में भाग लेने के सहयोजित या आमंत्रित कर सकते है परन्तु इस आष्य का आदेष बैठक की तिथि से पहले ही निर्गत हो जाना चाहिए। अध्यक्ष के नहीं रहने पर उपाध्यक्ष अध्यक्ष का पूर्ण कार्यभार सभांलेंगे।

उपर्युक्त प्राधिकरण के प्रषासन और प्रबंधन पर निम्नांकित का दायित्व होगा -

(क) अध्यक्ष (अध्यक्ष की अनुपस्थिति में उपाध्यक्ष)
(ख) शासी निकाय
(ग) सचिव
(घ) ऐसे अन्य प्राधिकार जिन्हे बिहार सरकार या राज्य प्राधिकरण द्वारा स्थापित किया जाय।

प्राधिकरण के शासी निकाय में निम्नलिखित शामिल होंगे -

1. प्राधिकरण के महानिदेषक - अध्यक्ष
2. बिहार ओलम्पिक एसोसिएषन के प्रतिनिधि - सदस्य
3. राज्य सरकार द्वारा मनोनित प्राधिकरण के दो उत्कृष्ट खिलाड़ी - सदस्य
4. राज्य सरकार द्वारा मनोनित प्राधिकरण के ५ खेल प्रवर्तक/ खेल विकास अथवा आयोजन से संबंधित मामलों में जानकारी रखने वाले सदस्य - सदस्य
5. निदेशक छात्र एवं युवा कल्याण बिहार - पदेन सदस्य
6. सचिव बिहार राज्य खेल प्राधिकरण - सदस्य सचिव
शासी निकाय के अध्यक्ष इसकी बैठक में कार्य सूची को ध्यान में रखते हुए अधिक से अधिक ३ व्यक्तियों को सहयोजित या आमंत्रित कर सकते है।

7. महानिदेषक तथा सचिव का पद किसी कारणवष रिक्ति की स्थिति में कला संस्कृति एवं युवा विभाग के सचिव/विषेष सचिव तथा अपर सचिव/संयुक्त सचिव उनके कार्यो को क्रमषः सम्पादन करेंगे।
8. प्राधिकरण के माहनिदेषक जिन्हें बिहार सरकार द्वारा मनोनित किया जायेगा प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी होगें और प्राधिकरण के सचिव जिन्हे राज्य सरकार द्वारा ही नियुक्त किया जायेगा प्राधिकरण के प्रमुख सचिव होंगे।
9. प्राधिकरण के साथ-साथ इसके शासी निकाय के सदस्यों का कार्यकाल (पदेन सदस्य एवं चक्रानुक्रम में मनोनित सदस्यों को छोड़कर) मनोनय संबंधी अधिसूचना की तिथि से अधिक से अधिक ४ वर्षो का होगा। इसमें वह अवधि भी शामिल होगी जो चार वषोर्ं की अवधि की समाप्ति और प्राधिकरण के पुनर्गठन के बीच व्यतीत हो। चक्रानुक्रम से मनोनित सदस्यों का कार्यकाल राज्य सरकार के प्रसाद पर्यन्त अधिसूचना की तिथि से एक वर्ष होगा।
10. प्राधिकरण अपने कार्योे के संचालन तथा प्रबंधन के लिए नियम/विनियम बना सकेगा।
11. बिहार राज्य खेल प्राधिकरण उपक्रम नहीं होगा।
12. प्राधिकरण राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त वित के अतिरिक्त भारतीय खेल प्राधिकरण केन्द्र सरकार गैर सरकारी स्त्रोत व्यावसायिक प्रतिष्ठानों से स्पोन्सरषिप कर वित्त प्राप्त करेगा। संरचना विकसित करने तथा अन्य खेल संस्थाओ को ऑफिसियेट करने के लिए शुल्क की उगाही के माध्यम से भी संषाधन जुटाने का प्रयास करेगा।
13. प्राधिकरण के नियंत्रण में कार्य करनेवाली संस्थाओं तथा कर्मचारियों के संबंध में पूर्ण बजट। वित्तीय एवं प्रषासनिक शक्तियॉ प्राधिकरण को प्रदत्त रहेगी। प्राधिकरण के कोष से खर्च करने की पूूर्ण शक्तियॉ प्राधिकरण को प्राप्त रहेगी।
14. बिहार सरकार द्वारा निर्गत सामान्य अथवा विषिष्ट अनुदेषों का पालन प्राधिकरण को करना होगा।
15. प्राधिकरण की शासी निकाय प्राधिकरण के निदेषानुसार प्रषासनिक तथा वित्तीय कार्यो को कार्यान्वित करेगी।
16. बिहार राज्य खेल प्राधिकरण राज्य सरकार के अनुदेष के अनुरूप जिलों में जिला खेल प्राधिकरण की स्थापना की कार्रवाई करेगा। जिला खेल प्राधिकरण बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के समबद्ध रहेगा और राज्य प्राधिकरण को उनके निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण की शक्तियॉ प्रदत्त रहेगी।
17. भविष्य में यदि राज्य सरकार बिहार राज्य खेल प्राधिकरण को समाप्त करने का निर्णय लेगी तो वैसी अवस्था में प्राधिकरण की सभी शक्तियॉ सम्मपतियॉ और दायित्व राज्य सरकार में निहित हो जायेगी और इसके संबंध में राज्य सरकार स्वविवेक से आदेष दे सकेगी।
18. इसके पूर्व बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के पुर्नगठन से संबंधित सभी निर्गत संकल्प विलोपित समझे जायेगे।


{